Powered by Blogger.
0
Monday, December 26, 2011

May Dreams

मास्टर जी क्या पढ़ा रहे है,
मुझे कोई होश नहीं,
मुझे तो बस इंतज़ार है घंटी बजने का
यहाँ घंटी बजी और मै चला घर
अब वापस नहीं आऊंगा स्कूल
दो महीने तक

अरे गर्मी की छुट्टियाँ है
कोई छुट्टियों में स्कूल आता है भला?
अब तो बस विडियो गेम खेलेंगे, T.V. देखेंगे
सुबह उठाना भी नहीं पड़ेगा, कोई स्कूल का काम नहीं
बस मौज ही मौज

नाना नानी के पास भी तो जाना है
नाना ने नयी गाड़ी ली है
अब तो रोज शाम को आइस क्रींम खाने जायेंगे
मै दो खाऊंगा और नेहा को सिर्फ एक ही देंगे
वो हर बार ज्यादा लेती है

टन टन टन टन..........

अरे छुट्टी हो गयी,
चलो मै चला


- Deepak Yadav

This post is written for the Months Of Year Challenge (Season 2)

0 Comments with Pain and Sweat:

Post a Comment